Home Delhi NCR भारत और जीत के बीच खड़ी दीवार,कमिंस ने जड़े अर्धशतक

भारत और जीत के बीच खड़ी दीवार,कमिंस ने जड़े अर्धशतक

78
0

नई दिल्ली : भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मेलबर्न में खेले जा रहे बॉक्सिंग डे टेस्ट के चौथे दिन मेजबान के पैट कमिंस ने शानदार अर्धशतक जड़ते हुए टीम इंडिया और जीत के बीच में दीवार खड़ी कर दी है।

399 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम को स्कोर एक समय 215 रन पर आठ विकेट हो गया था और लग रहा था कि भारतीय टीम चौथे ही मैच जीत लेगी, लेकिन अंतिम सत्र में कमिंस नाबाद 61 व लियोन 6 ने भारतीय गेंदबाजों को विकेट लेने का कोई मौका नहीं दिया।

दिन का खेल खत्म होने तक मेजबान ने 85 ओवर में 8 विकेट पर 258 रन बना लिए थे। हालांकि मेजबान टीम को अभी भी जीत के लिए 142 रनों की जरूरत है। ऐसे में उनके लिए यह टेस्ट बचाना नामुमकिन से लग रहा है। टीम इंडिया अब पांचवें दिन सुबह जल्दी से दो विकेट लेकर ऐतिहासिक जीत पर मुहर लगाना चाहेगी।

विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम को बुमराह ने ओपनर आरोन फिंच (3) के रुप में पहला झटका दिया। जल्द ही रवींद्र जडेजा ने मार्कस हैरिस (13) को शॉर्ट लेग पर मयंक अग्रवाल के हाथों कैच आउट कराया।

लंच के बाद मोहम्मद शमी ने उस्मान ख्वाजा (33) को एलबीडब्ल्यू आउट किया। इसके बाद शॉन मार्श (44) और ट्रेविस हेड ऑस्ट्रेलियाई पारी को संभालते हुए 51 रनों की साझेदारी की, लेकिन तभी बुमराह ने शॉन मार्श को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया।

इसके बाद जडेजा ने मिचेल मार्श (10) को अपनी फिरकी के जाल में उलझाकर पवेलियन भेज दिया।यहां से ट्रेविस हेड 34 और कप्तान पैन ने 22 रन की साझेदारी करते हुए टी टाइम तक पारी को संभाला।

चायकाल के बाद इशांत ने हेड को बोल्ड करके इस अहम साझेदारी को तोड़ा। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पैन (26) भी टीम का संकट नहीं टाल सके और वह जडेजा के तीसरे शिकार बने। इसके बाद शमी ने स्टार्क को बोल्ड कर भारत को बड़ी सफलता दिलाई।

इससे पहले टीम इंडिया ने दूसरी पारी 37.3 ओवर में 8 विकेट पर 106 रन के स्कोर पर घोषित की। भारतीय टीम को पहली पारी में 292 रन की बढ़त हासिल थी, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट जीतने के लिए 399 रन का मुश्किल लक्ष्य मिला।

टीम इंडिया की तरफ से मयंक अग्रवाल (42) सर्वश्रेष्ठ स्कोरर रहे। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पैट कमिंस ने घातक गेंदबाजी करते हुए 11 ओवर में तीन मेडन सहित 27 रन देकर 6 विकेट लिए।