Home Entertainment राजेश खन्ना के करियर के सुपरहिट 3 साल

राजेश खन्ना के करियर के सुपरहिट 3 साल

118
0

नई दिल्ली :हिंदी सिनेमा के सुपरस्टार रहे राजेश खन्ना आज हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उनकी फिल्में और उनका अलग स्टाइल आज भी उनके फैन्स के दिलों से जाता नहीं है। राजेश खन्ना का जन्म 29 दिसंबर 1942 को अमृतसर में हुआ था और जुलाई 2012 में उन्होंने मुंबई में आखिरी सांस ली थी।

ऐसे में हिंदी सिनेमा में ‘काका’ कहे जाने वाले राजेश खन्ना ने 1969-72 के बीच लगातार 15 सुपरहिट देकर स्टारडम का तमगा हासिल किया था। उनकी बड़ी बेटी ट्विंकल का जन्मदिन भी 29 दिसंबर को ही होता है। राजेश खन्ना ने ‘आराधना’ (1969), ‘इत्तेफाक (1969), दो रास्ते (1969), ‘बंधन’ (1969) ‘खामोशी’ (1969), ‘डोली’ (1969), ‘सफर’ (1970), ‘आन मिलो सजना’, (1970), ‘द ट्रेन’ (1970), ‘सच्चा झूठा’, (1970), ‘कटी पतंग’, (1971), ‘आनंद’, (1971), ‘महबूब की मेंहदी’, (1971), ‘हाथी मेरे साथी’ (1971), ‘दुश्मन’, (1972) सुपरहिट फिल्में दीं।

ये बात तो हम सभी जानते हैं कि राजेश खन्ना का असली नाम जतिन खन्ना था। लेकिन अपने अंकल के कहने पर उन्होंने फिल्मों में आने का फैसला किया और इसी वजह से उन्होंने अपना नाम जतिन से बदलकर राजेश कर दिया। राजेश खन्ना का इस रिकॉर्ड को आजतक बॉलीवुड का कोई भी सितारा नहीं तोड़ पाया।

राजेश खन्ना को बॉलीवुड का काका भी कहा जाता था। 29 दिसंबर का दिन खन्ना परिवार के लिए किसी दोहरी खुशी का दिन तब बन गया, जब राजेश की बड़ी बेटी ट्विंकल भी अपने पिता के जन्मदिन पर ही पैदा हुईं। बॉलीवुड में कई सुपरहिट फिल्में दे चुकी एक्ट्रेस ट्विंकल खन्ना एक बेहतरीन एक्ट्रेस के साथ-साथ एक लेखिका भी बन चुकी हैं।

साल 2015 में ट्विंकल खन्ना ने ‘मिसेज फनीबोन्स’ नाम की किताब लिखी थी। साल 2016 में ‘द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद’ और साल 2018 में ‘पायजामास आर फॉरगिविंग’ लिखी।