*👉दिल्ली से बनारस के बीच चलेगी🚂 T-18 , शताब्‍दी जैसी होंगी👌 सुविधाएं*

*👉दिल्ली से बनारस के बीच चलेगी🚂 T-18 , शताब्‍दी जैसी होंगी👌 सुविधाएं*

48
0
SHARE

नई दिल्ली  : भारत की सबसे आधुनिक ट्रेन ‘T-18’ दिल्ली से बनारस के बीच चलेगी। सूत्रों के मुताबिक पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन यानि 25 दिसम्बर से यह ट्रेन चलनी शुरू होगी। फिलहाल इस ट्रेन का ट्रायल कोटा-सवाई माधोपुर के बीच चल रहा है। इस रूट पर ट्रेन ने 180 किलोमीटर की स्पीड से सफल ट्रायल भी कर लिया है।

अगले 2-3 दिनों में इसका ट्रायल ख़त्म हो जाएगा। ट्रायल के दौरान इस ट्रेन के जितने पैरामीटर को रिकॉर्ड किया गया है, उसके मुताबिक T-18 को पटरियों पर उतारने के लिए कमिश्नर रेलवे सेफ्टी की अनुमति मिलेगी। ‘T-18’बिना इंजन की ट्रेन है जो यूरोपीय तकनीक पर बनाई गई है।

इसे चेन्नई के रेल कोच फैक्ट्री ने 100 करोड़ की लागत से 3 महीने में तैयार किया है। इस ट्रेन के 4 कोच पर एक पावर कार होता है और यह एक सेट के रूप में चलती है] इसलिए इसे ट्रेन सेट्स कहा जाता है। 2018 में निर्माण के कारण इसे ट्रेन 18 यानि ‘T-18’नाम दिया गया है। मेट्रो ट्रेनों की तरह यह ट्रेन फौरन गति पकड़ लेती है और इसे ब्रेक लगाकर तुरंत रोका भी जा सकता है। आम ट्रेनों के मुकाबले इसका वजन करीब 300 टन कम होता है इसलिए इसे ज्यादा स्पीड भी दिया जा सकता है।

सूत्रों के मुताबिक़ ‘T-18’ को दिल्ली- भोपाल या दिल्ली-बनारस रूट पर चलाने पर लंबा विचार हुआ है। लेकिन बड़ी संख्या में विदेशी पर्यटकों की रुचि बनारस पर होती है इसलिए यह बाज़ी बनारस ने जीत ली है। साथ ही बनारस प्रधानमंत्री मोदी का लोकसभा क्षेत्र है और ये बनारस के लिए एक बड़ा तोहफा है। भोपाल के मुकाबले बनारस रूट पर ज़्यादा ट्रेनों के परिचालन से इस रूट पर T-18 को चलाना आसान नहीं होगा। लेकिन रेलवे को भरोसा है कि यह ट्रेन 8 घंटे में दिल्ली से बनारस पहुंच जाएगी और उसी दिन वापस आ जाएगी।