Home Crime News बुलंदशहर हिंसा: शहीद सुबोध सिंह के नाम पर होगा एटा के जैथरा...

बुलंदशहर हिंसा: शहीद सुबोध सिंह के नाम पर होगा एटा के जैथरा कुरावली सड़क का नामकरण

66
0
फाइल फोटो

लखनऊ: बुलंदशहर हिंसा के में शहिद  इंसपेक्टर सुबोध सिंह के परिवार को मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद आर्थिक सहायता दी गई है। सूबे से सीएम ने उनके परिवार को 50 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने के साथ-साथ 30 लाख के होम लोन को सरकार द्वारा चुकाए जाने की घोषणा की है।

इसके साथ ही उनके परिवार को राज्य की सरकार ने असाधारण पेंशन और एक सदस्य को नौकरी देने की भी घोषणा की है। शहिद के के बच्चों को सिविल सर्विस कोचिंग में सरकार की तरफ से सहयता दी जाएगी और एटा के जैथरा कुरावली सड़क का नामकरण शहीद सुबोध सिंह के नाम पर होगा।

बता दें, पूरा मामला बुलंदशहर के स्याना कोतवाली का है. सोमवार को बुलंदशहर में गोहत्या की खबर पर जम कर हंगामा हुआ. ये हंगामा इतना बड़ गया की इसमें एक इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह समेत एक युवक की मौत हो गई. इस हिंसा में गुस्साई भीड़ ने पुलिस चौकी समेत अनेक वाहनों को फूंक डाला। इस हिंसा में स्याना के सीओ समेत आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए।

इस मामले में यूपी पूलिस के एडीजी ने कहा है कि एक खेत में गोवंश का मांस मिला था जिसके बाद गांववाले उत्तेजित हो गए. गोमांस मिलने के बाद गांववालों ने प्रदर्शन किया और दोपहर 12 बजे से 1.30 बजे तक इलाके में जमकर हंगामा किया गया. इस हंगामे में प्रदर्शनकारियों की तरफ से पथराव किया गया और गोलियां चलाई गईं. बुलंदशहर के डीएम ने जानकारी दी है कि पोस्टमार्टम के दौरान यह पता चला है कि इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को गोली लगी है. उनकी बाईं आंख के पास गोली लगी. गोली उनके सर में धंस गई थी जिसके चलते उनकी मौत हो गई. उनके सिर में लगी चोट गंभीर थी और इसके चलते उन्हें बचाया नहीं जा सका.

एडीजी का कहना है कि गोवंश की हत्या की खबर मिलने के बाद महाऊ, नयाबांस और चिंगरावटी गांव के 400 के करीब लोग इकट्ठे हो गए और इन लोगों ने पुलिस पर पथराव और फायरिंग की. एडीजी इंटेलीजेंस को मौके पर भेजा गया है वो 48 घंटे में अपनी गोपनीय रिपोर्ट सौंपेंगे.

यहां भड़की भीड़ ने पुलिस चौकी में आग लगा दी और एक दर्जन से ज्यादा वाहनों को आग के हवाले कर दिया. पथराव, फायरिंग और आगजनी में कई पुलिसकर्मी और प्रदर्शनकारी भी घायल हुए हैं.