धनतेरस पर एक साथ पूजा करने पर बरसेगी महालक्ष्मी कि कृपा

धनतेरस पर एक साथ पूजा करने पर बरसेगी महालक्ष्मी कि कृपा

48
0
SHARE
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली : आज धनतेरस का त्योहार है और इस दिन सभी भगवान धन्वंतरि का पूजन किया जाता है। इस दिन वैदिक देवता यमराज का पूजन भी किया जाता है।

माना जाता है कि कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी के दिन समुद्र मंथन से आयुर्वेद के जनक भगवान धन्वंतरि अमृत कलश लेकर प्रकट हुए थे।

जिस कारण धनतेरस का त्योहार बड़े ही खुशी के साथ मनाया जाता है। मान्यता है कि धनतेरस पर खरीदारी अवश्य करनी चाहिए जो जीवन के लिए शुभ होता है।

धनतेरस पर क्या करे?

1.  इस दिन धन्वंतरि जी का पूजन करें।

2. नई झाडू खरीदकर उसका पूजन करें।

3. कुबेर पूजन करें।

4. कार्तिक स्नान करके प्रदोष काल में घाट, गौशाला, बावड़ी, कुआं, मंदिर आदि स्थानों पर तीन दिन तक दीपक जलाएं।

5. तांबे, पीतल, चांदी के घर के नए बर्तन व आभूषण अवश्य खरीदे।

6. सायंकाल पश्चात तेरह दीपक प्रज्वलित कर तिजोरी में कुबेर का पूजन करें।

पूजन का समय

धनतेरस पर रात 08 :37 मिनट तक हस्त नक्षत्र रहेगा। जरूरी है कि इस समय के भीतर ही खरीदारी करने का प्रयास करें।

आज तीन अति शुभ समय है, सुबह 7:42 से 10:02 बजे तक वृश्चिक लग्न, दोपहर 01:47 से 03 :12 बजे तक कुंभ लग्न और शाम 06:07 से 08:01 बजे तक वृषभ लग्न रहेगा।

तीनों ही लग्न शुभ और स्थिर माने जाते हैं। इस समयावधि में की गई खरीदारी स्थिरता प्रदान करती है और जीवन में शुभता लाती है।