वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के मुताबिक भारतीय कंपनियों की पहली पसंद हैं पुरुष,...

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के मुताबिक भारतीय कंपनियों की पहली पसंद हैं पुरुष, महिलाएं हुई पीछे

91
0
SHARE
प्रतीकात्मक फोटो

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने एक रिपोर्ट जारी की इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत में हर पांच में से चार कंपनियों में महिला कर्मचारियों की भागीदारी  10 फीसद से भी कम है. भारतीय कंपनियां महिला कर्मचारी की वजाए पुरुष कर्मचारी को ज्यादा पसंद करती है.

इस रिपोर्ट के मुताबिक ऐसी कंपनियों की संख्या में तेजी से बढ़ोत्री हो जो अपनी कंपनी में महिला से अधिक पुरषों की भर्ती करना चाहते हैं.

प्रतीकात्मक फोटो

दरअसल भारत में तकनीक क्षेत्र से जुड़ी नौकरियां तेजी से बढ़ रहीं हैं लेकिन खामि यह है कि इन पोस्ट पर भर्ती में लिंगभेद की वजह से इसका फायदा महिलाओं को न के बरावर मिल रहा है.

आपको जान कर हैरानी होगी कि भारत में महिला कार्यबल की भागीदारी सिर्फ 27 फीसदी है जो वैश्विक औसत के मुकाबले 23 फीसदी कम है.

जहां एक तरफ भारत में नई नौकरियां पैदा हो रही हैं, वहीं दूसरी तरफ महज 26 फीसदी महिला कर्मियों का भर्ती होना महिलाओं की मौजूदा हालत  पर कई सवाल खड़े करती है.

आकड़ों के मुताबिक गिने चुनें सैक्टर में ही महिलाओं का वर्चस्व हैं जिनमें बैंकिंग सेक्टर  और टेक्सटाइल सेक्टर आता है बैंकिंग सेक्टर में 61% महिला कर्मचारी हैं वहीं टेक्सटाइल सेक्टर में 64% महिला कर्मचारी है.