प्राइमरी टीचर्स की भर्ती में एग्जाम देने आई फर्जी महिला,पुलिस ने किया...

प्राइमरी टीचर्स की भर्ती में एग्जाम देने आई फर्जी महिला,पुलिस ने किया अरेस्ट

74
0
SHARE
प्रतीकात्मक फोटो

डीएसएसएसबी प्राइमरी टीचर्स की भर्ती के एग्जाम में एक महिला ने धोखाधड़ी की है दरअसल,13 अक्टूबर को डीएसएसएसबी का एग्जाम था जिसका सेंटर दिलशाद गार्डन, सी-ब्लॉक स्थित सर्वोदय बाल विद्यालय में था. इस एग्जाम में अंजू की जगह रिया एग्जाम देने सेंटर पर पहुंची थी.

एग्जाम देने गई महिला से अधिकारियों ने जब पूछताछ की तो असने अपना नाम तो बता दिया, लेकिन पिता का नाम और अड्रेस बताने में असफल हो गई. तब इस बात की जानकारी पुलिस को दी गई. जानकारी हासिल कर के पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया और उसके खिलाफ धोखाधड़ी के साथ-साथ आपराधिक साजिश का मामला दर्ज कर लिया. आरोपी महिला की पहचान रिया के रूप में हुई. रिया अंजू की जगह एग्जाम देने सेंटर पर पहुंची थी.

पुलिस ने बताया की डीएसएसएसबी प्राइमरी टीचर्स की भर्ती के लिए कैंडिडेट्स को सुबह 8:30 बजे से लेकर 9:30 बजे तक रिपोर्टिंग टाइम दिया गया था. सुबह 9:30 बजे कैंडिडेट के अंदर आने के बाद स्कूल का मेन गेट बंद कर दिया गया. इसके बाद एग्जाम सेंटर पर ड्यूटी कर रहे स्टाफ ने एक एक करके कैंडिडेट्स का ऐडमिट कार्ड के अलावा आईडी की जांच करनी शुरू की. जांच के दौरान रूम नंबर 204 में एग्जाम देने आई एक महिला कैंडिडेट का चेहरा ई-ऐडमिट कार्ड और फोटो आईडी से मेल नहीं हो रहा था.

आरोपी महिला पर शक होने पर अधिकारियों ने उससे असका नाम पूछा तो उसने अपना नाम अंजू बताया. उसका रोल नंबर 2800048666 था अधिकारियों ने कैंडिडेट से आईडी लेकर उससे पिता का नाम बताने के साथ साथ-साथ अड्रेस भी बताने के लिए कहा तो वह इन दोनों सवालों का जवाब नहीं दे पाई. जिसके बाद अधिकारियों को पता चल गया की कैंडिडेट फर्जी है.

सूचना मिलने पर पुलिस ने महिला को अरेस्ट कर के उससे पूछताछ शुरु कर दी है. पूछताछ में आरोपी महिला ने अपना असली नाम रिया बताया है साथ ही उसने ये भी बताया है कि वह अपनी सहेली अंजू की जगह उसका एग्जाम देने आई थी.