Home Crime News नोएडा: प्लास्टिक वेस्ट का नहीं किया निस्तारण तो भरना पडे़गा जुर्माना

नोएडा: प्लास्टिक वेस्ट का नहीं किया निस्तारण तो भरना पडे़गा जुर्माना

31
0

नोएडा : पैकिंग में रैपर का इस्तेमाल और ई-कचरा पैदा करने वाली कंपनियों को अब प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट एक्ट 2016 के तहत उतने ही कचरे का निस्तारण भी करना होगा। जितना प्लास्टिक वेस्ट पैदा होगा।

ऐसा नहीं करने पर जुर्माना लगाया जाएगा। इस नियम की जानकारी अभी कई निजी कंपनियों को नहीं है। ऐसे में प्रदूषण विभाग जिले की सभी छोटी बड़ी निजी कंपनियों की पहचान कर नियमों की जानकारी दे रहा है।

ग्रेटर-नोएडा और नोएडा की छोटी बड़ी लगभग 100 मैन्युफैक्चरिंग का काम करने वाली कंपनियां इसमें शामिल हैं। विभाग को कई छोटी कंपनियों के बारे में जानकारी नहीं है। ऐसे में लोगों की मदद से उनकी पहचान की जा रही है।

नोएडा क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने बताया कि अभी तक 6 चिन्हित किया है। नोएडा में 3 बड़ी कंपनियों की बात करें तो रजनीगंधा, हल्दीराम और सैमसंग ने सीपीसीबी को कचरे की रिपोर्ट दे दी है।

रजनीगंधा की मॉनीटरिंग शुरू हो गई है। ग्रेटर नोएडा क्षेत्रीय अधिकारी अर्चना द्विवेदी ने बताया कि 35 से 40 कंपनियों को चिन्हित किया है। विभाग की ओर से एक्ट के बारे में जानकारी भेजी जा रही है। एलजी और वीवो की ओर से सीपीसीबी को भेजी गई रिपोर्ट स्वीकार कर ली गई है। दोनों की मॉनीटरिंग विभाग कर रहा है।