Home Crime News नोएडा: यमुना एक्सप्रेस वे पर भीषण हादसे का शिकार हुई बस

नोएडा: यमुना एक्सप्रेस वे पर भीषण हादसे का शिकार हुई बस

41
0
हादसे का शिकार हुई बस

नोएडा : यमुना एक्सप्रेस वे पर हुआ भीषण बस हादसा नोएडा वालों को भी सिहरा गया। हादसे में मारे गए लोगों में शामिल मनोज यहां सेक्टर-23 स्थित आरएम ऑफिस में तैनात थे। उनकी आठ महीने पहले ही शादी हुई थी।

वह बीते आठ महीने से हर सप्ताह लखनऊ अपने घर जाते थे। वह हर शुक्रवार को लखनऊ चले जाते और रविवार रात को लौटकर सोमवार को ऑफिस जॉइन कर लेते थे। सोमवार सुबह ऑफिस पहुंचने के लिए वह रविवार रात करीब 11 बजे घर से बस पकड़ने के लिए निकले।

घर से निकलने के करीब 30 मिनट बाद उनकी पत्नी ने उन्हें फोन किया तो वह बस में भीड़ होने की बात कहकर बोले कि वह आगे की सीट पर हैं और नोएडा पहुंच कर कॉल करेंगे। सुबह 4 बजे आगरा में हुए हादसे की जानकारी मिलने पर जब उनकी पत्नी ने कॉल किया तो उनका फोन बंद जा रहा था।

जिसके बाद मनोज की पत्नी ने उनके ऑफिस में कॉल करके पूछताछ की तो पता चला कि वह यहां भी नहीं पहुंचे थे। इस पर रोडवेज के कर्मचारी मनोज को ट्रेस करने की कोशिश करने लगे। इसके साथ ही हादसे वाले जगह पर दो लोगों की टीम भेजी गई। जहां पता चला कि मनोज भी मरने वालों में शामिल है।मनोज के पिता राम अवतार रोडवेज में कंडक्टर के पद पर तैनात थे।

बीमारी के कारण 2008 में उनकी मृत्यु होने के बाद 2009 में मनोज की नौकरी परिचालक के पद पर हुई थी। जिसके तीन साल बाद 2012 में वह प्रोन्नति पाकर क्लर्क बने थे। हादसे के बाद शव से आईडी कार्ड मिला था, लेकिन बस के पानी में गिरने के चलते कार्ड से कुछ भी पता नहीं चल रहा था।

सिर्फ इतना ही क्लियर हो पा रहा था कि मृतक रोडवेजकर्मी है। पत्नी के ऑफिस में फोन करने के बाद पहचान के लिए दो लोगों को आरएम ऑफिस से मौके पर भेजा गया, तब शव की शिनाख्त हो सकी।